Bheegi Bheegi Raaton Mein (Full Lyrics in hindi )

Kishore Kumar old is gold

भीगी भीगी रातों में
मीठी मीठी बातों में
ऐसी बरसात में कैसा लगता है

ऐसा लगता है तुम बनके बादल
मेरे बदन को भीगो के मुझे
छेद रहे हो, हो छेद रहे हो 

अंबर खेले होली उई मां
भीगी मोरी चोली हमजोली, हमजोली 

हो पानी के रीलों में है
सावन के मेले में है
छत पर अकेले में कैसा लगता है

Bheegi Bheegi Raaton Mein - Romantic Love Story | Sanam | Adnan Sami |  official teaser | LoveSheet - YouTube

ऐसा लगता है तुम बनके घाट
अपने सजन को भीगो के खेल
खेल रही हो, हो खेल रही हो

ऐसा लगता है तुम बनके बादल
मेरे बदन को भीगो के मुझे छेड़ रहे हो, हो छेद रहे हो

बरखा से बचा लूं तुझे
देखने से लगा लूं
आ छुपा लूं, आ छुपा लूं

दिल ने पुकारा देखो
रुत का इशारा देखो
उफ्फ ये नजर देखो
कैसा लगता है बोलो

Bheegi Bheegi Raaton Mein (Ajnabee) - Song Lyrics and Music by Lata  Mangeshkar, Kishore Kumar arranged by _edwArD_143 on Smule Social Singing  app

ऐसा लगता है कुछ हो जाएगा
मस्त पवन के ये झोंके सैयां
देख रहे हो, हो देख रहे हो

ऐसा लगता है तुम बनके बादल
मेरे बदन को भीगो के मुझे
छेद रहे हो, हो छेद रहे हो

Leave a Reply

Your email address will not be published.